kisan Aur Uske Aalsi bete – Poor Farmer Story In Hindi

दोस्तों आज हम आपके साथ kisan Aur Uske Aalsi bete Ki kahani शेयर करेंगे | जो आपको मोटीवेट करेगी | और इस कहानी से आपको मेहनत करने की shikh मिलेगी |

Ek Kisan Aur Uske Char Bete Ki Kahani

kisan Aur Uske Aalsi bete

एक किसान था जिसके चार बेटे थे  किसान दिन भर मेहनत करके अपने परिवार को पाल रहा था |

वही उसके 4 बेटे बहोत आलसी थे | कोई काम नहीं करते थे | किसान बहोत दुखी था क्युकी वो उसका हाथ नहीं बटाते थे | 

उसको चिंता थी की जब वो दुनिआ छोड़कर जायेगा | उसके घर का गुजारा कैसे होयेगा | और क्या खाएंगे वो जब मेंहनत ही नहीं करेंगे |

एक दिन किसान बोहोत ज्यादा बीमार पर गया | उसने अपने आखिरी समय में अपने चार बेटो को अपने पास बुलाया |

अपने पिता की हालत देख कर उनके बेटो को बहोत दुःख हुआ | किसान ने कहा की खेत की जमीन में खज़ाना छिपा हुआ है | जब खोदोगे तभी निकलेगा वो खजाना |

ये सब कहकर किसान मर गया अब उनका खेत की जमीन को खोदना जरुरी था |

 

 

kisan aur uske char bete

क्युकी मेहनत करने वाला पिता मर गया था ऐसे में अगर वो कामचोरी दिखाएंगे तो खाएंगे क्या |

इसलिए अगली सुबह चारो लड़के खेत में चले गए | वहा उन्होंने खुदाई की पर खजाना नहीं मिला |

फिर उन्होंने सोचा खजाना तो नहीं मिला पर क्यों न खेत में बीज दाल दिया जाये| उन्होंने जैसा सोचा वैसे ही किआ | फिर वो मेहनत करते गए और उनका आलस कम होता गया |

कुछ दिनों बाद खेत में फसल बरने लगी  चारो बेटे बहोत खुश हुए | उन्होंने उस फसल को बेचकर बहोत धन कमा लिया था |

फिर उनके पास एक बूढ़ा आदमी आया उसने कहा बेटा तुम्हारे पिता जी जिस खजाने की बात कर रहे थे |

वो खजाना ये फसल थी जिससे बेचकर तुमने बहोत धन कमाया है  तुम्हारे पिता जी यही चाहते थे की उनके बेटे मेहनती बनने |

उनके बेटो ने जब ये सब सुना तो इमोशनल होगये थे और सुधर गए थे |

Other Story
Lomdi Aur Angoor
Imaandar lakadhara ki kahani
Ache sanskar in hindi

https://www.youtube.com/watch?v=LLLSYnia4cQ

Final words

दोस्तों हमे उम्मीद है आपको Ek Kisan Aur Uske Char Bete Ki kahani पसंद आयी होगी |

Moral : इस कहानी से हमे ये सिख मिलती है की मेहनत से कुछ भी पाया जा सकता है और कभी कामचोरी नहीं दिखानी चाहिये | कुछ न कुछ करते रहना चाहिये |

kisan aur uske aalsi bete | kisan aur uske char bete | kisan aur uske char bete short story

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Related Post